पत्रकार वार्ता में डाली यात्रा के संबंध में जानकारी देते यात्रा संयोजक मंत्री प्रसाद नैथानी।  

dehradun

31 दिवसीय बाबा विश्वनाथ जगदीशिला डोली रथ यात्रा 16 मई से होगी शुरु

देहरादूनर। बाबा श्री विश्वनाथ जगदीशिला डोली की 25वीं रथ यात्रा 16 मई को गंगा दशहरे के दिन शुरु होगी, जो कि 16 जून तक चलेगी। यह 31 दिवसीय डोली यात्रा सम्पूर्ण उत्तराखण्ड का भ्रमण करेगी। 25वीं यात्रा होने पर इस बार समिति और भक्तजन इसे रजत जयन्ती वर्ष के रूप में मनाने जा रहे हैं। इसके तहत 11 सूत्रीय कार्यक्रम मई 2024 से लेकर अप्रैल 2025 तक उत्तराखण्ड के 13 जनपदों में चलाए जाएगें जो उत्तराखण्ड को तीर्थाटन प्रदेश, जड़ी बूटी उत्पादन एवं स्वावलंबी प्रदेश की और अग्रसर करेंगे।

कचहरी स्थित एक होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में डोली यात्रा के संयोजक पूर्व मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी ने डोली यात्रा कार्यक्रम के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 16 जून को गंगा दशहरा के पावन पर्व पर भक्तगण अपने-अपने जनपदों में गाय माता को फलाहार देकर पूजन एवं उत्तराखण्ड की जमीन बचाने हेतु संकल्प लेंगे। 25 जुलाई को अमर शहीद श्रीदेव सुमन के बलिदान दिवस पर सम्पूर्ण प्रदेश में

जनपद मुख्यालयों पर रक्तदान शिविर लगवाये जाएंगे। 31 जुलाई को 325 देवालयों में विश्व शाति एवं शहीदों की आत्मा की शांति हेतु एक दिवसीय यज्ञ का आयोजन किया जायेगा। 31 अगस्त 2024 को संस्कृत भाषा के उन्नयन हेतु संस्कृत विद्यालय खोलने की शुरूआत की जाएगी। क्योंकि इस दिन 1969 में पहली बार भारत में संस्कृत दिवस मनाया गया था। 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों की दशा और दिशा पर विचार गोष्ठी का आयोजन पूरे प्रदेश. मुख्यालयों पर किया जाएगा। 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी जयन्ती एवं पूर्व प्रधानमंत्री स्व० श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयन्ती पर पूरे उत्तराखण्ड में बंजर पड़े खेतों के स्वामियों द्वारा जड़ी बूटी उत्पादन, फल उत्पादन का कृषिकरण हेतु वृहत कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

14 नवम्बर को बाल दिवस के रूप में सम्पूर्ण उत्तराखंड में नशे के खिलाफ अभियान की शुरुआत की जाएगी, जिसके तहत बेसिक स्कूल से लेकर विश्वविद्यालयों, मेडिकल कॉलेजों, इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्र छात्राओं को प्रतिज्ञा दिलाने का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। 14 दिसम्बर 2024 को राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस के अवसर पर शारीरिक एवं मानसिक ऊर्जा के विकास के लिए अब तक डोली द्वारा जो 325 स्थान डोली द्वारा चिन्हित किये गये हैं उनमें ध्यान केन्द्रों के संचालन हेतु अभियान का शुभारंभ किया जाएगा। 11 जनवरी 2025 को स्व० लाल बहादुर शास्त्री जी की पुण्य तिथि पर (जिन्होंने जय जवान जय किसान का नारा दिया) 13 जनाब्दों में चिन्हित बंजर खेतों पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा।

यह भी पढें:पत्रकार वार्ता में डाली यात्रा के संबंध में जानकारी देते यात्रा संयोजक मंत्री प्रसाद नैथानी।  

फरबरी 10.12 2025 को राष्ट्रीय उत्पादकता दिवस पर पूरे उत्तराखण्ड मे जड़ी-बूटी एवं फल-फूल उत्पादन हेतु कृषिकरण का शुभारंभ किया जाएगा।
22 मार्च 2025 को विश्व जल दिवस पर जल संरक्षण हेतु उत्तराखण्ड के 13 जनपदों के जिला मुख्यालयों पर कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। इस प्रकार इस बार श्री विश्वनाथ-जगदीशिला डोली यात्रा के रजत जयन्ती पर पुरे वर्षभर जून 2024 से अप्रैल 2025 तक का कार्यक्रम सम्पूर्ण उत्तराखण्ड में आयोजित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue Reading