Ghazipur news; बैनर में फोटो न होने से था नाराज; वीडियो वायरल, कांग्रेस के संवाद कार्यक्रम में भिड़े कार्रयकर्ता

Ghazipur news

Ghazipur news; गाजीपुर में भारत जोड़ो यात्रा के तहत आयोजित संवाद कार्यक्रम में कांग्रेस के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। मारपीट का वीडियो भी वायरल हो रहा है। मौके पर मौजूद लोगों ने बीच- बचाव किया और मामले को शांत कराया।

जमानिया तहसील के पास स्थित रामलीला मंच में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के तहत आयोजित संवाद कार्यक्रम में कांग्रेस के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। हालांकि मंच पर मौजूद कांग्रेस के अन्य कार्यकर्ताओं ने बीच बचाव किया और मामले को शांत कराया।

रामलीला मंच पर लगाए गए कांग्रेस पार्टी के बैनर में फोटो न होने से नाराज नेता कांग्रेस कमेटी के ब्लॉक अध्यक्ष नसीम अख्तर से बहस करने लगा। देखते ही देखते उसने मारपीट शुरू कर दी। आसपास मौजूद लोगों ने बीच बचाव किया और युवक को मौके से हटा कर मामला को शांत कराया। Ghazipur news

Ghazipur news घटना से नाराज ब्लाक अध्यक्ष नसीम अख्तर ने कहा कि इस प्रकार के कार्यकर्ता ही पार्टी को कमजोर कर रहे हैं और हमला करने वाले युवक की भाजपा से मिले होने की आशंका जताई। हालांकि उन्होंने कोतवाली में तहरीर देने से इन्कार कर दिया, लेकिन पूरे प्रकरण की जानकारी कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सुनील राम को पत्र के माध्यम दिया है। वहीं, जिलाध्यक्ष ने मारपीट या हाथापाई की घटना से इन्कार किया है। उन्होंने कहा कि किसी बात को लेकर आपस में मतभेद हो गया होगा। ऐसी कोई बात नहीं है।

राष्ट्रवाद की बात करने वाली भाजपा राष्ट्र को कर रही कमजोर : डॉ.जनक कुशवाहा

कार्यशाला में कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रदेश सचिव डॉ. जनक कुशवाहा ने कहा कि इंडिया गठबंधन के माध्यम से पार्टी के नेतृत्व में केंद्र में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस का एक-एक कार्यकर्ता तैयार रहे। भाजपा लोकतंत्र को खत्म करने की रणनीति पर काम कर रही है। राष्ट्रवाद की बात करने वाली भाजपा राष्ट्र को कमजोर कर रही है। उन्होंने सभी लोगों से कांग्रेस की विचारधारा को गांव-गांव में पहुंचाने एवं भाजपा की जनविरोधी नीतियों को उजागर करने का आह्वान किया। ब्लॉक कमेटी के अध्यक्ष नसीम अहमद ने कहा कि पिछड़े और दलितों की लड़ाई कांग्रेस हमेशा लड़ती रही है। कार्यक्रम में मोहम्मद यूसुफ
बशर‚ तसव्वर अंसारी‚ अरविंद कुशवाहा‚ कुंदन खरवार‚ गायत्री देवी‚ बदन बिंद‚ धर्मेंद्र आदि मौजूद थे। Ghazipur news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue Reading