खुलासा-सतीश हत्याकांड के आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जेल

जनपद की कसया पुलिस ने थाना क्षेत्र में बीते दिनों हुए जघन्य हत्याकांड का सफल अनावरण करते हुए‌ एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त आला कत्ल नुकीलेदार भारी डंडा व अवैध शस्त्र बरामद किया है।
   पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल के निर्देशन में जनपद में अपराध एवं अपराधियो के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के क्रम मे 17 जनवरी दिन बुधवार को कसया पुलिस टीम द्वारा स्थानीय थाने में पंजीकृत मु0अ0सं0-02/2024 धारा 302 भादवि व 3/25 ए एक्ट का सफल अनावरण करते हुए घटना कारित करने वाले एक अभियुक्त मुरारी यादव उर्फ साधू पुत्र शंकर यादव निवासी सपहां नौका टोला थाना कसया को विशुनपुरकट कसया से गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही पर घटना मे प्रयुक्त आलाकत्ल एक अदद ठोस नुकीलेदार लकड़ी का भारी डंडा, एक अदद अवैध तमंचा 12 बोर, एक अदद फायरशुदा खोखा कारतूस 12 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतूस 12 बोर, एक जोड़ा जूता, एक अदद घटना के समय पहने जींस का पैंट, एक अदद गल्ब्स व टोपी, एक अदद अद्धी इम्पीरियलय ब्लू खाली बोतल बरामद किया गया।
पुलिस टीम ने घटना कारित करने के कारण बताते हुए कहा कि आरोपी मुरारी यादव उर्फ साधू व मृतक सतीश चन्द्र यादव उर्फ पप्पू यादव विगत चार वर्षों से अपने रिश्तेदारों व व्यापारियों को मोटे व्याज का लालच देकर उनसे लाखों रुपये उधार लेते थे। जिसके क्रम में कई लोगों से विवाद की स्थिति थी। मृतक सतीश चन्द्र यादव ने वर्ष 2023 के आखिरी दिन यानी 31.12.2023 को शाम को 08 बजे तक कुल आधा दर्जन लोगो को भारी रकम देने का वादा किया था तथा आरोपी मुरारी यादव उर्फ साधू को भी एक लाख रुपया उसकी दो महीने बाद होने वाली शादी की तैयारी के लिए देने का वादा किया था । मृतक सतीश चन्द्र यादव हर बार आरोपी मुरारी यादव को जब पैसा देने की बारी आती थी तो उसके हिस्से का रुपया खुद व परिवार की एलआईसी करवाने में लगा देता था।इन दोनों के मन मुटाव की शुरुआत दिनांक 28. 10. 2023 को तीन लाख रुपये के बटवारे को लेकर हुई थी। जिसमें मृतक सतीश उपरोक्त अपने एलआईसी एजेन्ट से लगभग 03 लाख रुपया जीवन आनन्द नामक एलआईसी पालिसी में अपने नाम जमा करा दिया तथा दिनांक 31.12.2023  को जब मृतक उपरोक्त को आरोपी मुरारी यादव उर्फ साधू को एक लाख रुपया देना था तो भी मृतक ने एक लाख रुपया छल से दिनांक 31.12.2023 को क्रमशः अपनी लड़की व छोटे लड़के की जीवन तरुण एलआईसी में क्रमशः 50 हजार व 40 हजार रुपया समय करीब शाम के 07 बजे जमा करा दिया । यह बात आरोपी को नागवार गुजरी तथा उसी दिन मृतक द्वारा बताया गया कि आज मै रुपये देनदारों को दूगा यह बात पूरे गांव में व आरोपी मुरारी यादव को पता लग गयी । मौके का फायदा देखकर दिनांक 31.12.2023 को रात्रि 10 बजे के आस पास मृतक द्वारा शराब लाने व पीने का आमत्रंण देते ही तुरन्त आरोपी खरदर पुलिय़ा में पहुंच गया तथा दोनों शराब पीने के बाद वाद विवाद करने लगे। मौके का फायदा उठाकर जैसे ही मृतक सतीश चन्द्र यादव सड़क से हटकर कच्चे रास्ते में पेशाब करने के लिए गया तो पीछे से मौका देखकर 12 बोर के तमन्चे से मुरारी यादव ने उसके उपर जान से मारने की नियत से फाय़र कर दिया लेकिन किया हुआ फायर लक्ष्य से भटककर हवा में चला गया तथा पूर्व से बनायी गयी योजना के अनुसार वही पर पडे नुकीले भारी कठोर लकडी के मोटे डंडे से मृतक के सर के पीछे जोरदार प्रहार करके वही हत्या कर दी तथा घटना को आपराधिक कृत्य का रुप देने के लिए मोटरसाइकिल को गिराकर मृतक की हेलमेट को दूर लटका दिया तथा मोटरसाइकिल को क्षतिग्रस्त कर दिया और तमन्चे व कारतूसों को वही पास में मट्टी के ढेर में झुपा दिया और गांव वालों के द्वारा फायर की आवाज सुन कर आने पर जब भीड़ इकट्ठा हो गयी तो सहानुभूति का सहारा लेकर वही पर खडा हो गया।
अभियुक्त को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्र0नि0 कसया गिरिजेश उपाध्याय, प्र0नि0 मनोज कुमार पन्त साइबर सेल, उ0नि0 आलोक यादव प्रभारी स्वाट टीम, उ0नि0 शेषनाथ यादव कसया सहित अन्य दर्जनों पुलिस कर्मी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue Reading